खुद का बिजनेस कैसे शुरू करें पूरी जानकारी हिंदी में?


Khud ka business start kre in hindi

khud ka business kaise shuru kre puri jankari | खुद का बिजनेस कैसे शुरू करें पूरी जानकारी हिंदी में


नमस्कार दोस्तों अगर आप भी अपना खुद का बिज़नस शुरू करना चाहते है तो ये पोस्ट आपके लिए बहुत मददगार साबित हो सकती है तो इससे बहुत अच्छे से पढ़े।

लोग खुद का बिज़नस क्यों शुरू करना चाहते है?

कई लोग खुद का बॉस बनना चाहते है इसलिए वो जॉब को न करके बिज़नेस शुरू करते है, और कई लोग बड़े बिज़नसमैन से प्रेरित होकर अपना बिज़नस शुरू करते है। कुछ लोग अपना बिज़नस शुरू करना चाहते है लेकिन इन्वेस्टमेंट के लिए पैसा उनके पास नही होता इसलिए वो खुद का बिज़नस नही शुरू कर पाते।

यह भी पढ़ें-    Youtube channel कैसे grow करे ?

अगर आप खुद का बिज़नस स्टार्ट कर रहे है तो आपको रिस्क लेना पड़ेगा और अगर आप रिस्क नही लेते है तो आप अपने बिज़नस को कामयाब नही बना पाएंगे। हमने कई ऐसी लोगो का नाम सुना है जो बिज़नस कर के आज आसमान की उचाईयो तक पुहुचे है लेकिन कियी ऐसे लोग भी है जो अपने बिज़नस को चलाने में हार गए है, अगर आप सफल होंगे तो आप दुनिया के सामने उदाहरण दिखाए जायेंगे लेकिन अगर आप सफल नही होंगे तो आपको कोई नही जानेगा।


 बिज़नेस शुरू करने के लिए आपको इन्वेस्टमेंट की भी जरूरत पड़ेगी और आपको अच्छा इन्वेस्टर भी खोजना पड़ेगा। मेरी आप लोगो को यही राय रहेगी की जब आप खुद का स्टार्टअप बिज़नेस शुरू कर रहे है तब आप बैंक से लोन मत ले क्योंकि अगर आपका बिज़नस शुरू में लॉस में जाता है तो आपके ऊपर कर्ज बढ़ जायेगा जिससे आपको अपना बिज़नेस प्रॉफिट में ले जाने में दिक्कत आएगी।


Tags-
अपना खुद का Business स्टार्ट करने के Ideas
गांव में बिजनेस करने का तरीका
इंडिया में सबसे अच्छा बिजनेस कौन सा है
दुनिया का सबसे अच्छा बिजनेस कौन सा है
खुद का बिजनेस कैसे शुरू करें पूरी जानकारी हिंदी में

 अगर आपको बिज़नेस में रूचि है तभी आप बिज़नेस शुरू करे, क्योंकि अगर हमारी रूचि किसी काम में नही रहती तो उसे हम अच्छे से नही कर पाते और जल्दी ही इस काम से बोर हो जाते है।
Startup idea for business in Hindi



बिज़नेस क्या है?

बिज़नस का मतलब है की आप कोई चीज़ बेच रहे है ,
या तो वो कोई प्रोडक्ट होगा, या कोई कोर्स या फिर आपकी नॉलेज।
आप जितनी आसानी से लोगो तक अपने प्रोडक्ट को ले जाओगे , उतनी ही आसानी से आप अपने बिज़नेस को सफल कर पाओगे।
आप कई मार्केटिंग स्ट्रेटजी को लगा कर भी अपने बिज़नेस को आसमान तक ले जा सकते है।


खुद का बिज़नेस कैसे शुरू करे ?

1.आईडिया और प्लानिंग :~ अगर आप अछे बिज़नेसमैन बनना चाहते है तो आपका बिज़नेस आईडिया सबसे बेस्ट होना चाहहिये।
आप अपने पैशन और इंटरेस्ट से ही अपना बिज़नस चुने और ये समझने की कोशिश करे ,की आप लोगो को वैल्यू कैसे दे सकते है।
आप जिस बिज़नेस को स्टार्ट करना चाहते है, उस बिज़नेस से रिलेटेड मॉडल को अच्छे से स्टडी कर ले ताकि आपको ये अंदाजा हो जाये की आप का बिज़नेस कैसे प्रॉफिट में जायेगा और उसमे लॉस होने की सम्भावना कम हो जायेगी।


जब आप अपना बिज़नेस शुरू कर रहे हो तो उसका प्लान रेडी करे, मैं आपको यही राय दूंगा की आप 1 साल का बिज़नेस प्लान रेडी कर ले और उस प्लान के बेसिस पे अपने प्रॉफिट लॉस को समझे।
जब आप बिज़नस प्लान बना लेंगे तब आपको पता चल जायेगा , की आपको कितने इन्वेस्टमेंट की जरूरत है अपने बिज़नस को स्टार्ट करने के लिए, जिससे आप इन्वेस्टमेंट के लिए पैसे बचा सकते है और अच्छा इन्वेस्टर खोज सकते है।

2.लोकेशन :~ जब आप बिज़नेस शुरू करते है ,तब आपको एक अच्छा लोकेशन भी ढूढ़ना होगा , क्योंकि आप का बिज़नेस लोकेशन पे भी निर्भर है।
अगर आप कोई ऐसा लोकेशन ढूढते है जहाँ आप के प्रोडक्ट की डिमांड जाता है तो आप अच्छा मुनाफा कमा लेंगे।

3.बिज़नेस को रजिस्टर कराना :~ अगर आप खुद का बिज़नस शुरू करते है तो आपको अपने बिज़नस को बिज़नेस एन्टिटीएस से रजिस्टर करना होता है।

Tags-

घर में कौन सा बिजनेस करें
बिज़नेस नॉलेज
कौन सा बिजनेस करने से बढ़िया amdani hog
दो हजार में शुरू करें ये बिजनेस कमाएं लाख रुपये महीना
खुदका बिजनेस कैसे शुरू करें - 20 बढ़िया टिप्स
अपना बिज़नेस कैसे शुरू करें? - कमाई टिप्स हिंदी
कम पैसे मे अच्छा बिजनेस बताये
महिलाएंघर बैठे कैसे शुरू करें अपना कारोबार 
एग्रीकल्चर बिज़नेस आइडियाज इन हिंदी
 व्यापार करे
घर में कौन सा बिजनेस करें
 ऑनलाइनबिजनेस कैसे करें लघुउद्योग कैसे शुरू करें
खुद का बिजनेस कैसे शुरू करें पूरी जानकारी हिंदी में









मैं आपको कुछ बिज़नेस एन्टिटीटेस बता दे रहा हु जिसकी मदद से आप अपने बिज़नेस को रजिस्टर करा सकते है।


Sole propreitorship:~ अगर आप इस एन्टिटीएस से अपना बिज़नेस रजिस्टर करते है तो आप अपने बिज़नेस के प्रॉफिट और लॉस के खुद जिम्मेदार होंगे। इसमें आपको गवर्मेंट की rules & regulation कम रहेगी।अगर आप कोई छोटी शॉप से अपने बिज़नेस कैररयर को शुरू करना चाहते है तो ये entities आपके लिए अच्छी रहेगी।
आप इससे रजिस्टर करने के लिए अपने लोकल अथॉरिटी (ग्राम प्रधान) से सम्पर्क कर सकते है।
इसको रजिस्टर करने के लिए ₹1000 आप को देने होंगे और ये 1-2 दिन में रजिस्टर हो जायेगा।


One person company{OPC} :~ अगर आप इस entities से रजिस्टर कराते है तो आप अपने कंपनी के लॉस के जिम्मेदार नही होंगे और अगर आप ने किसी बैंक से लोन लिया है तो बैंक आपके घर या जमीन को बंदख नही रख सकती।
इसका कॉस्ट ₹5500 है और इससे रजिस्टर होने में 5-10 लगेंगे। इस एन्टिटीएस में आप ही बिज़नस के डायरेक्टर और शेयर होल्डर रहेंगे।
अगर आप इस entities से अपने बिज़नेस को रजिस्टर करा लेते है तो आप ले कंपनी का नाम ऐसा हो जायेगा।
Company name Pvt. Ltd. (OPC)

Private Limited Company (Pvt Ltd):~ ये बिज़नेस entity बहुत रेप्यूटटेड है और अगर आप इससे अपने बिज़नेस को रजिस्टर कराते है तो लोगो का और बैंक का आपके कंपनी के ऊपर ट्रस्ट बढ़ जाता है , जिससे आपको बैंक से लोन लेना में आसानी रहती है।आप इस एन्टिटीटी में मैक्सिमम 200 शेयरहोल्डर रख सकते है अपनी कंपनी या बिज़नेस के और शेयरहोल्डर कंपनी के लॉस के पर्सनली जिम्मेदार नही रहेंगे। इस एंटिटी में सरकार के नियम जा होते है और इसका कॉस्ट ₹6500 होता है और इसे रजिस्टर होने में 5-10 दिन लगते है। अगर आप अपने कंपनी में 200 से जादा शेयरहोल्डर रखना चाहते है तो आप पब्लिक लिमिटेड पे अपने कंपनी या बिज़नेस को रजिस्टर करा सकते है। अगर आप कोई बड़ी कंपनी खोलना चाहते है तो ये बिज़नस एन्टिटीटी आप के लिए अछि रहेगी।

■  Limited Liability Partnership (LLP):~ अगर आप रियल एस्टेट में बिज़नेस करना चाहते है या आप कॉन्ट्रैक्टर है तो ये बिज़नस एन्टिटीटी आपके लिए मददगार साबित होगी क्योंकि अगर आप कुछ वर्कर लेते है और उन्हें सिर्फ 1-2 साल के लिये कम पे रखना चाहते है तो इस एन्टिटीटी को आप यूज़ कर सकते है और काम होने के बाद ,आप कंपनी को आसानी से बन्द कर सकते है।

अब मैंने आपको बिसिनेस एंटिटी भी बता दी है , अब हम बात करेंगे टैक्स रजिस्ट्रेशन के बारे में क्योंकि हमे जिम्मेदार नागरिक होने का फर्ज तो अदा करना चाहिए।
मैं आपको कुछ टैक्स रजिस्ट्रेशन बता दे रहा हु आप अपने बिज़नेस के अनुकूल टैक्स रजिस्ट्रेशन को करा ले।
GST रजिस्ट्रेशन :- अगर आपकी कंपनी या आपके बिज़नस में 20 लाख के ऊपर का लेन-देन पुरे साल में होता है तो आपको gst रजिस्ट्रेशन करवाना चाहिए ।
Gst रजिस्ट्रेशन करने से आपको gst नंबर मिलता है और आपको जादा टैक्स भी नही देना होता है।

Import Export Code Registration(IEC):- अगर आप इम्पोर्ट एक्सपोर्ट का बिज़नस करते है तो आपको IEC रजिस्ट्रेशन करना होगा।

Professional Tax Registration :- ये टैक्स रजिस्ट्रेशन आपको इंडिया के कुछ ही राज्यों में करवाना आवश्यक है।

Employee State Insurance Registration(ESI):- अगर आप के बिज़नेस या कंपनी में 10 से जादा एम्प्लॉइज काम करते है तो आपको ये रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है और अगर आप ये रजिस्ट्रेशन नही कराते है तो आपके ऊपर कानूनी कारवाही की जा सकती है।

● Provident Fund Registration (PF):- अगर आप के बिज़नेस में 20+ वर्कर काम करते है , तो आपको ये रजिस्ट्रेशन करवाना आवश्क है।

●MSME Registration (Udyog Aadhar):- अगर आप ये रजिस्ट्रेशन करवा लेते है तो आपको बैंक से लोन आसानी से मिल जायेगा और आपको अपना बिज़नेस चलाने में आसानी रहेगी और अगर ये रजिस्ट्रेशन आप ने करा लिया है तो आपको टैक्स पर छुट मिलेगी ।

अब आपके बिज़नेस का सब रजिस्ट्रेशन हो चूका है अब आपको अपने बिज़नस में सारे फायदा और नुकसान को समझना है तभी आप एक सफल बिज़नेसमैन बनेंगे , आपको हर साल देने वाले टैक्स को भी अपने प्रॉफिट , लॉस में जोड़ना है। जैसे - इनकम टैक्स return, अकॉउंटिंग,GST return,Secretartial compliance.

अपने बिज़नेस को सफल कैसे बनाये?

जब हम बिज़नेस शुरू करते है तब पहले हमे अपने ग्राहक बनाने होते है क्योंकि अगर ग्राहक का हमारे ऊपर विश्वास होता है तभी वो हमसे प्रोडक्ट लेगा, इसलिए हमे ग्राहक को अपनी ओर आकर्षित करना होता है। हम कई मार्केटिंग आईडिया का इस्तेमाल करके ग्राहक का बिश्वास जीत सकते है।
हमें अपने प्रोडक्ट को लोगो तक पहुचाने के लिए मार्केटिंग करनी होती है और हम जितनी अच्छी मार्केटिंग करेंगे उतनी जादा ग्राहक ला सकेंगे।





समांतर मार्केटिंग दो प्रकार की होती है-

1. ऑफलाइन मार्केटिंग - ऑफलाइन मार्केटिंग में हम अपने बिज़नेस या कंपनी के बैनर या पोस्टर बना के प्रचार करते है। जिससे लोग हमारे बिज़नेस को जानते है और लोग हमारे पास आते है। ऑफलाइन मार्केटिंग में हमे जादा पैसा देना होता है लेकिन ग्राहक उतने नही आते और हम ऑफलाइन मार्केटिंग में ट्रैकिंग नही कर सकते।
2. डिजिटल मार्केटिंग - डिजिटल मार्केटिंग में आपको
अपने बिज़नेस को बढ़ाने में काफी जा मदद मिलती है। डिजिटल मार्केटिंग में आप अपने बिज़नेस का ads सोशल मीडिया पे चला सकते है या फिर आप ईमेल मार्केटिंग भी कर सकते है। डिजिटल मार्केटिंग में आप कम पैसे देकर जा ग्राहक बुला सकते है।


अगर आप को अपने छोटे या बड़े बिज़नेस के लिए डिजिटल मार्केटिंग सीखनी है तो आप निचे कमेंट कर दो |
Business krne ka tarika

उम्मीद है ये आर्टिकल आपके लिए सहायक रहेगा , और इसे अपने सभी जानने वालो को भेजे जो खुद का बिज़नस शुरू करना चाहते है।
आज के लिए बस इतना ही,मिलते है अगले पोस्ट में।
धन्यवाद।

टिप्पणी पोस्ट करें

3 टिप्पणियां