Mutual fund क्या है? म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्ट कैसे करें ?

 mutual fund kya hai ?
म्यूच्यूअल फण्ड हिंदी में |

mutual fund kya hai,mutual fund kya hai hindi me,mutual fund kya hota hai hindi mein bataen,history of mutual fund in hindi,what is mutual fund in hindi



म्यूच्यूअल फण्ड क्या है ? आप अपने पैसे को invest करना चाहते हैं तो आप म्यूच्यूअल फण्ड में बड़ी आसानी से अपने पैसे को invest कर सकतें है |

mutual fund kya hai ?

म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में आपको जरूरी जानकारी , इस पोस्ट में मिल जाएगी और अगर आप म्यूच्यूअल फण्ड में invest कर रहें है तो सभी जानकारी को एक बार जरुर पढ़ लें |


म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में जानने से पहले , हम जानेगे इन्वेस्टमेंट क्या होता है, हम कहाँ - कहाँ अपने पैसे को invest कर सकतें हैं और इन्वेस्टमेंट क्यूँ करना चाहिए |


इन्वेस्टमेंट क्या है ?


अगर हम अपने पैसे को कहीं invest करते हैं और हमे बिना कोई काम किये वो पैसे बढ़ के मिलते हैं तो उसे हम इन्वेस्टमेंट कहते है |


इन्वेस्टमेंट हमे बड़ी सावधानी से करना चाहिए क्यूंकि इसमें हमारे पैसे डूब भी सकतें है |


लेकिन इन्वेस्टमेंट के भी कई तरीके होते हैं जिससे हम अपने पैसे को कम रिस्क में भी invest कर सकते हैं |


अब मैं आपको कुछ इन्वेस्टमेंट का तरीका बताऊंगा जिसमे लोग अपने पैसे invest करते हैं |

इन्वेस्टमेंट का तरीका -


1. सेविंग अकाउंट (saving account) - आप बैंक के सेविंग अकाउंट में अपने पैसे को ढ़क के बढ़ा सकते हैं , यहाँ पे आपके पैसे पे कोई रिस्क नही रहेगा और आपके पैसे डूबेंगे नही , लेकिन आपको यहाँ ज्यादा फायदा भी नही होगा क्यूंकि जितने समय तक आप अपने पैसे को बैंक में रखेंगे , वो इन्फ्लेशन की वजह से अपने वैल्यू को खो देगा |

तो सेविंग अकाउंट में पैसे invest करना फायदेमंद नही है |


2.फिक्स्ड डिपाजिट (fixed deposit) :- आप अपने पैसे को बैंक में fixed डिपाजिटके तौर पे जमा कर सकते हैं | इसमें भी आपके पैसे पे कोई रिस्क नही होगा लेकिन आप एक तय समय से पहले अपने पैसे को नही निकाल सकतें | फिक्स्ड डिपाजिट एक सही तरीका है अपने पैसे को invest करने का वो भी बिना किसी रिस्क के |

लेकिन आप इसमें ज्यादा पैसे मत लगाइए क्यूंकि और कई ऐसे इन्वेस्टमेंट हैं जिसे आप बिना रिस्क या कम रिस्क में कर सकतें हैं और आपको ज्यादा फायदा भी होगा |


3. गोल्ड या ज्वेल्लेरी :- आप गोल्ड और ज्वेल्लेरी में भी अपने पैसे को invest कर सकतें है , क्यूंकि कुछ सालों से गोल्ड के दाम काफी ज्यादा बढ़े हैं , तो गोल्ड भी एक अच्छा तरीका हो सकता है अपने पैसों को invest करने का |

4.रियल एस्टेट (real estate) :- रियल एस्टेट में आप अपने पैसे लगा कर बहुत ज्यादा return पा सकते हैं | रियल एस्टेट में invest करने के लिए आपके पास ज्यादा पैसा और समय होना चाहिए | क्यूंकि अगर आप रियल एस्टेट में invest करते हैं तो आपके profit होने की सम्भावना 90 प्रतिशत तक है |


5.स्टॉक मार्केट (stock market):- स्टॉक मार्केट एक बहुत risky और फायदेमंद तरीका है अपने पैसो को invest करने का , अगर आप स्टॉक मार्केट में invest करते हैं तो आपके पैसे 5 गुना तक बढ़ सकते हैं या आपके पुरे पैसे डूब भी सकते हैं | इसीलिए जब भी आप स्टॉक मार्केट में invest करें तो पूरी जानकारी के साथ invest करें |

स्टॉक मार्केट के अधिक जानकारी के लिए आप इस पोस्ट को पढ़े -

इसे भी पढ़े -शेयर मार्केट को कैसे समझे |

6.गवर्नमेंट इस्सुएद बांड (Government issued bond ) :- गवर्नमेंट issue bond में आप गवर्नमेंट को लोन देतें है , मतलब आप अपने पैसे गवर्नमेंट को उधार देते हैं |


7.कॉर्पोरेट बांड्स ( coporate bonds)


8.cryptocurrency & bitcoin


अब हम जानेगे की इन्वेस्टमेंट करते  समय हमे किन-किन चीजों का ध्यान रखना चाहिए |
1.return
2 .risk 
3.time 


आप किसी भी जगह इन्वेस्टमेंट करें लेकिन return,रिस्क,टाइम का ध्यान  रखें |


इन्वेस्टमेंट करते समय आप एक बात जरुर याद रखें की आप कभी भी एक जगह invest मत करिये , आप हमेसा कई जगह invest करें ताकि आपका पैसा ज्यादा नहीं डूबे |

अब हम बात करेंगे mutual fund kya hai ?


म्यूच्यूअल का मतलब है एक साथ |

म्यूच्यूअल फण्ड में कई इन्वेस्टर का पैसा एक साथ रखा जाता है और इन  पैसों को प्रोफेशनल फण्ड मेनेजर अलग-अलग जगहों पे invest करते हैं ताकि कम रिस्क पे ज्यादा फायदा हो पाए |


म्यूच्यूअल फण्ड में कोई भी व्यक्ति invest कर सकता है , चाहे वो अमीर हो या मिडिल क्लास हो |

म्यूच्यूअल फण्ड में आप 500 रूपये से भी invest कर सकतें है |


म्यूच्यूअल फण्ड में कई प्रकार होतें है | मै उन सभी प्रकार को ऊपर से बता देता हूँ , जिससे आपको उनके बारे में जानकारी मिल जाये |


म्यूच्यूअल फण्ड के प्रकार :-
1. Equity 
2. Debt 
3. Hybrid 


1.Equity - equity म्यूच्यूअल फण्ड स्टॉक मार्केट की तरह होता है | अगर आप इसमें invest करते हैं तो आपका रिस्क और return दोनों ज्यादा होगा |

Equity को भी कुछ प्रकार में बांटा गया है |


# Large cap equity fund - अगर आप इसमें invest करते हैं तो आपके पैसो को बड़ी कंपनी के शेयर में लगाया जायेगा और आपका रिस्क और return दोनों कम हो जायेंगे , क्यूंकि कोई बड़ी कंपनी जल्दी डूब नही सकती ना ही ज्यादा तेजी से ऊपर जा सकती है |


# Small cap equity fund - इसमें आपके पैसों को ग्रोविंग कंपनी में लगाया जाता है और यहाँ आपको ज्यादा रिस्क और return दोनों रहता है |


#Diversified equity fund - इसमें आपके पैसों को कई सेक्टर में invest किया जाता है ताकि कोई सेक्टर ग्रो करे या डूब जाये तो आपके पैसे बर्बाद न होने पायें |


# Equity linked saving scheme [ELSS] - अगर आप इसमें पैसे invest करते हैं तो आपको टैक्स में कुछ प्रतिशत छुट मिलती है |

इसे भी पढ़े -रोज पैसे कैसे कमाए |

# Sector mutual funds - सेक्टर म्यूच्यूअल फण्ड में आप अलग-अलग सेक्टर में अपने पैसों को इन्वेट्स करते हैं | जैसे - एग्रीकल्चर , मेडिकल , टेक्नोलॉजी |

अगर आप किसी एक सेक्टर में अपने पैसों को invest करते हैं तो आप का फायदा भी हो सकता है और नुकसान भी हो सकता | जैसे पिछले कुछ सालों में टेक्नोलॉजी सेक्टर बहुत तेजी से ग्रो हुआ तो जितने लोगो ने इस सेक्टर में पैसे लगायें होंगे उन्हें काफी ज्यादा फायदा हुआ होगा |


# Index Funds - इंडेक्स फण्ड में आपके पैसे को कोई मैनेज नही करता है | अगर आप इसमें अपने पैसे invest करते हैं तो आपका पैसा निफ्टी और सेंसेक्स से साथ बढ़ेगा और कम होगा |

2. Debt mutual fund - इसमें आपको कम रिस्क और कम return रहता है | इसमें आप सरकारी ब्रांड पर invest करते हैं |


Debt mutual fund के प्रकार -


# Liquid Funds - ये इन्वेस्टमेंट का बहुत सुरचित बिकल्प है | इसमें आपको बहुत कम invest करना होता है |


# Gilt Funds - इसमें आप गवर्मेंट bond में invest करते हैं |


#Fixed maturity plan - यह फिक्स्ड डिपाजिट की तरह होता है , लेकिन इसमें कुछ अलग नियम और शर्तें होतीं हैं | इसमें आपको फिक्स्ड डिपाजिट से ज्यादा return मिलते हैं |


3.Hybrid Mutual Fund :- इसमें आप debt और equity दोनों को मिलाकर इन्वेस्टमेंट कर सकतें हैं |

इसमें invest करने से आप कम रिस्क में ज्यादा प्रॉफिट कम पाएंगे |


Hybrid Mutual Fund के प्रकार -


# Balanced Saving Fund ( Equity savings) - इसमें आप कम और ज्यादा दोनों रिस्क पे अपने पैसे लगा सकते है | 70:30 के ratio से आप अपने पैसों को लगते हैं , मतलब 70 प्रतिशत पैसा आपका कम रिस्क और कम return पे रहेगा और 30 प्रतिशत पैसा ज्यादा रिस्क और ज्यादा return पे रहेगा |


# Balanced Advantage Fund - मैंने आपको जो उपर बताया ये उसके बिपरीत है , इसमें आपका 70 प्रतिशत पैसा ज्यादा रिस्क और return पे होगा और 30 प्रतिशत कम रिस्क और कम return पे होगा |


म्यूच्यूअल फण्ड में पैसा कैसे invest करें ?


अगर आप म्यूच्यूअल फण्ड में पैसा invest करना चाहते हैं तो आप म्यूच्यूअल फण्ड से जुड़ीं कुछ app का इस्तेमाल करके अपने पैसो को आसानी से invest कर सकते हैं |


grow app- ग्रो app एक आसन तरीका है म्यूच्यूअल फण्ड में invest करने के लिए , आप इस app की मदद से आसानी से पैसा invest कर सकती हैं |

इस app में आपको कितना परसेंट return मिलेगा और सारी डिटेल दी जाती है |

म्यूच्यूअल फण्ड के फायदे ?


1.म्यूच्यूअल फण्ड का सबसे बड़ा फायदा यह है की आप इसमें 500 से भी इन्वेस्टमेंट शुरू कर सकतें है और शोर्ट और लॉन्ग समय के लिए अपने पैसे को invest कर सकतें हैं |


2.म्यूच्यूअल फण्ड में आपके पैसों को प्रोफ़्फ़ेसिओनल लोग invest करते है जिससे आपके return rate ज्यादा आतें है |


3.म्यूच्यूअल फण्ड में आपके पैसे को कई सेक्टर में invest किया जाता है जिससे की आपके पैसा का ज्यादा return rate मिल पता है |


4. म्यूच्यूअल फण्ड में आपको टैक्स पे भी छुट मिलती है |


सारांश-

mutual fund हर व्यक्ति के लिए सही है , बस जब भी आप इसमें invest करें तो अपने अनुसार प्लान का चयन करें | म्यूच्यूअल फण्ड के सभी योजना दस्तावेज को ध्यान से पढ़े |


अधिक जानकारी के लिए इस विडियो को देखे -


यह विडियो Tech Indian चैनल से लिया गया है |

tags-mutual fund kya hai,mutual fund kya hai hindi me,mutual fund kya hota hai hindi mein bataen,history of mutual fund in hindi,what is mutual fund in hindi

 


टिप्पणी पोस्ट करें

1 टिप्पणियां