डिमैट अकाउंट कैसे खोलें आसान तरीका 2021


हेलो दोस्तों स्वागत है टेक्निकल समाज में, आज हम बात करने वाले हैं डिमैट अकाउंट विषय पर । 

डिमैट अकाउंट क्या है, डिमैट अकाउंट कैसे खोलें? डीमैट खाता के लाभ और नुकसान और इसी के साथ साथ डिमैट अकाउंट बंद कैसे करें ,यह सब सवाल हर किसी के मन में आते हैं जो शेयर मार्केट में निवेश करना चाहते हैं।
 
इस पोस्ट में बताई गई जानकारी -

1. डिमैट अकाउंट क्या है?

2. डिमैट अकाउंट कैसे खोलें?

3. डीमेट खाता के लाभ 

4. डीमैट अकाउंट के नुकसान

5.डीमेट अकाउंट कैसे बंद करें

6.भारतीय स्टेट बैंक डीमैट खाता शुल्क संबंधित जानकारी

डीमैट अकाउंट क्या है , डीमैट अकाउंट ऑनलाइन कैसे खोलें इस लेख में हम डीमैट अकाउंट और उससे जुड़ी प्रोसेस को समझ कर stock market के महत्वपूर्ण पहलुओं पर नजर फेरेंगे।

स्टॉक मार्केट एक ऐसी जगह है जहां हर किसी को व्यावहारिक अनुभव प्राप्त करने की आवश्यकता होती है, परंतु वह उचित होना चाहिए। लेकिन व्यावहारिक अनुभव प्राप्त करना और खुद के अनुभव से सीखना भी उतना ही आवश्यक है।

 SEBI के नियमों के अनुसार, स्टॉक मार्केट में शुरुआत करने के लिए डीमैट अकाउंट खोलना जरूरी है। तो आइए जानते हैं डिमैट अकाउंट क्या होता है।



डिमैट अकाउंट क्या है - demat account kya hai in Hindi

डिमैट अकाउंट यह बैंक में बचत खाते के समान है। Demat Account में कोई भी शेयर या स्टॉक को होल्ड या ट्रांसफर कर सकते है। यह खाते का एक डिजिटल ऑनलाइन स्वरूप है। 

Demat Account लोगों के द्वारा शेयर बेचने या खरीदने में इस्तेमाल किया जाता है। जब हम बैंक में पैसे रखते हैं तो वह डिजिटल करेंसी में होते हैं । और जब हम बैंक से पैसे निकालते हैं तब वह भौतिक रूप में आ जाते हैं। अब से डिमैट अकाउंट डिजिटल स्वरूप में होता है। 

हालांकि पहले शेयर हमें कागजी स्वरूप में मिलते थे।

हम शेयर को एक डिमैट अकाउंट से दूसरे डिमैट अकाउंट में डिजिटली ट्रांसफर कर सकते हैं। इस प्रकार हमें शेयर भौतिक स्वरूप में नहीं रखना पड़ता।


डीमेट अकाउंट ऑनलाइन कैसे खोलें? Demat account kaise khole ?


डिमैट अकाउंट खोलने से पहले आपको कुछ जरूरी दस्तावेजों की जरूरत होती है।

डिमैट अकाउंट ओपन करने में लगने वाले दस्तावेज- 

1.पैन कार्ड
2.वोटर आईडी
3.पासपोर्ट
4.ड्राइवर्स लाइसेंस 
5.इनकम टैक्स रिटर्न्स
6.बिजली का बिल
7.राशन कार्ड
8.टेलीफोन लैंडलाइन बिल 
9.बैंक पासबुक

यह सारे दस्तावेज आपके लिए जरूरी है क्योंकि इनसे आपकी पहचान जुड़ी होती है। जैसे कि पैन कार्ड, वोटर आईडी , आधार कार्ड पर आपका एड्रेस पूरा नाम और जन्मतिथि होती है। बिजली का बिल ,इनकम टैक्स रिटर्न ,राशन कार्ड इन सारी दस्तावेजों पर आपकी या आपके घर वालों की सारी इंफॉर्मेशन होती है।

मगर आपको बता दूं SEBI के नए नियमों के अनुसार आपको इतनी सारी दस्तावेजों की जरूरत नहीं पड़ेगी । आप ग्रो ऐप से फ्री में डिमैट अकाउंट बना सकते हो। 

Groww App के साथ डिमैट अकाउंट खोलना बहुत ही आसान है, जिसमें आपको ज्यादा दस्तावेजों की जरूरत नहीं पड़ती। 

आप Groww app के साथ 2- इन -1 डीमैट खाता खोल सकते इससे आपको डिमैट खाते के लाभ के साथ-साथ ट्रेडिंग भी करना बहुत आसान होगा। 

सामान्य डिलीवरी ट्रेडिंग और इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए , खाता धारकों को आधार कार्ड, पैन कार्ड, फोटो इन चीजों की आवश्यकता होती है।

अगर आप भी ग्रो एप के साथ अपना डिमैट अकाउंट खुलवाना चाहते हो तो यह पोस्ट पढ़िए।



GROWW डीमैट खाता खोलने शुल्क :

 ग्रो के साथ आप फ्री में डीमैट खाता खोल सकते हो।

Groww ट्रेडिंग खाता खोलने के शुल्क: 

Groww app ट्रेडिंग खाता खोलने के लिए ₹0 शुल्क लगाता है। इसके अलावा स्टैंप पेपर, सेबी शुल्क , GST , STT ( security transaction Tax ) भी लेता है।


डीमैट खाता के लाभ/फायदे - advantages of demat account


डीमैट खाते के कई फायदे हैं , जो इसे बहुत लोकप्रिय बनाता हैं। 

1.डीमैट खाता व्यापारियों के लिए बहुत समय बचाते है। 
2.कम समय के भीतर, शेयर लेना, खरीदे या बेचे जा सकते हैं। 
3.डीमैट अकाउंट आपको एक ही टोकरी में अलग सुरक्षा को जैसे म्यूचुअल फंड, इक्विटी, शेयर, बॉन्ड रखने की अनुमति देता है। यह निवेशकों को सुरक्षित और आधुनिक सुविधा प्रदान करता है। 
4.निवेशकों को शेयरों की सुरक्षा के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं होती है । 
5.जो पहले शेयरों के भौतिक रूप के मामले में होता था। अब शेयर खरीदना ऑनलाइन हो चुका है जो बहुत सुलभ होता है।
6.पहले शेयरों को ट्रांसफर करने के लिए महीने लग जाते थे परंतु अब एक सेकंड में शेयर एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते है।
7.डिमैट अकाउंट के कारण शेयर गुम होना या चोरी होना की समस्या से समाधान मिल गया है।
8.यदि कोई कंपनी बोनस देती है , तो वह ऑटोमेटेकली आपके डिमैट खाते में जमा हो जाता है।


डिमैट अकाउंट के नुकसान - disadvantages of demat account


हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं , जैसे कि डीमैट अकाउंट के लाभ होते हैं वैसे डिमैट अकाउंट के नुकसान भी होते हैं। डिमैट अकाउंट के 5 बड़े नुकसान आइए देखते हैं डिमैट अकाउंट के नुकसान।

1.अगर आपके पास एक से ज्यादा डिमैट अकाउंट है तो आपको Annual Maintainance charges (AMC)  हर डिमैट अकाउंट में भरना पड़ता है, इसके साथ साथ अगर आप एक डिमैट अकाउंट लॉगिन नहीं करोगे तो वह फ्रीज होने के चांसेस होते हे।
2.दूसरा बड़ा नुकसान है तकनीकी जानकारी ना होना , क्योंकि आजकल सब डिजिटल हो गया है। इस डिजिटल दुनिया में शेयर भी डिजिटल हो गए। 
अगर किसी 55 या 60 वर्षीय बुजुर्गों को ऑनलाइन डिमैट की जानकारी ना हो तो उसके लिए जो एक चैलेंज होता है।
3.अगर आपने डिमैट अकाउंट ओपन करवा लिया है । इसमें ट्रेड करें या ना करें परंतु आपको अपने ब्रोकर को वार्षिक टैक्स (AMC) देना पड़ेगा। यह साधारण था 300 से ₹500 आस पास आता है।
4.अगर आपने अपना डिमैट अकाउंट लंबे समय से लॉगइन किया नहीं है तो आपका डिमैट अकाउंट फ्रिज भी हो सकता है। इसके लिए आपको हर 2 दिन में अपना अकाउंट चेक करना होगा।
5.पहले जब शेयर मार्केट भौतिक रूप में था तब निवेशक Buy and Hold चाल चलते थे। परंतु डिजिटल शेयर मार्केट की वजह से लंबी अवधि के जगह अल्पकालिक व्यापार मैं ज्यादा ध्यान देते हैं। इससे कंपनी को नुकसान होता है।
6.अगर आप अपने डिमैट अकाउंट से संतुष्ट नहीं है तो आप इसे बंद भी कर सकते हैं। यह प्रक्रिया बहुत आसान हो गई है।



डिमैट अकाउंट कैसे बंद करें? How to close demat account


डिमैट अकाउंट बंद करते वक्त आपको कुछ चीजों पर ध्यान देना जैसे कि आपके अकाउंट में कोई भी शेयर नहीं होना चाहिए। अगर आपके पास शेयर हो तो वह बेच डालें। 

आपके अकाउंट में नेगेटिव बैलेंस नहीं चाहिए। कई ब्रोकर कंपनियां चार्ज के नाम पर आपसे पैसे हटती है इससे आपका बैलेंस नेगेटिव में चला जाता है।

 डीमेट अकाउंट बंद करते समय लगने वाले दस्तावेज

●आपकी आईडी (ID) या डीपी की आईडी (DP ID)
●केवाईसी (KYC) डिटेल्स, नाम और पता की जानकारी
●डीमैट अकाउंट बंद करने का कारण
●बैंक अधिकारी की ओर से वेरिफाइड आईडी

अगर आपके डिमैट अकाउंट में होल्डिंग से और आप अपना अकाउंट बंद करना चाहते हैं तो इसके लिए अलग प्रक्रिया है।
●अकाउंट क्लोजर फॉर्म डाउनलोड करें और भरें
●डिलिवरी इंस्ट्रक्शन स्लिप भरें और अपने दूसरे डीमैट अकाउंट में होल्डिंग्स ट्रांसफर करें
●नए अकाउंट से क्लाइंट मास्टर रिपोर्ट जमा करें
●अपने नजदीकी बैंक शाखा में जाकर फॉर्म जमा करें


अकाउंट क्लोजर फॉर्म भरने के बाद आपने जिस ब्रोकर से डिमैट अकाउंट खुलवाया है उनको पोस्ट ऑफिस से कुरियर कर दीजिए। इस प्रोसेस में कम से कम 2 से 4 दिन लगते हैं।

आप अकाउंट क्लोजर फॉर्म को उस ब्रोकर को ईमेल भी कर सकते हैं। फिर वह आपको रिप्लाई देख कर आपका डीमेट अकाउंट बंद करेगा।

एक बार जब आप डिमैट अकाउंट बंद करने की request डाल दे तब आप अपने ब्रोकर से बार बार पूछते रहिए की डिमैट अकाउंट बंद हुआ या नहीं क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि ब्रोकर आपका डिमैट अकाउंट बंद नहीं करता।


भारतीय स्टेट बैंक डीमैट खाता शुल्क संबंधित जानकारी


भारतीय स्टेट बैंक ने न्यू स्कीम निकाली है, जिसमें अगर आप स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में ट्रेडिंग या डीमैट खाता खुलवा ते हो तो आपके अकाउंट में 1350 रुपए का फायदा होगा ।  इसे के साथ-साथ आप शेयर खरीद सकते हैं। 

एसबीआई ने ट्वीट करके कहा कि अगर आप योनो एप से डिमैट एंड ट्रेडिंग खाता खुलवा ते हो तो उसकी प्राइस ₹850 है। यह अकाउंट आपको फ्री में खुलवा दिया जाएगा और इसी के साथ वार्षिक टैक्स जो कि ₹500 है वह पहले साल लिया नहीं जाएगा।


अब बात करते हैं भारतीय स्टेट बैंक डिमैट खाता शुल्क कितना लगता है?

SBI अपने खाताधारकों पर अलग-अलग चार्ट लगाती है जैसे कि अगर आपके अकाउंट में 0 से 50 हजार तक की होल्डिंग है तो आप पर 0 AMC टैक्स लगेगा। अगर आपके पास 50 हजार से अधिक होल्डिंग कैपेसिटी है तो आप पर प्रतिवर्ष ₹100 चार्ज लगेगा। ऐसे ही दो लाख से ऊपर कैपेसिटी होगी तो ₹500 चार्ज लगेगा।

अगर आप एसबीआई में ट्रेडर अकाउंट खोलते हो तो उसके लिए ₹850+KRA शुल्क लगता है। और नॉन ट्रेडर के लिए, टैक्स ₹1000 से ऊपर होता है।

इसी के साथ साथ 18 % GST , Stamp paper charge , commodity segment charges , Security transaction Tax भी लगता है।



डीमेट अकाउंट से संबंधित पूछे गए सवाल

Q1.डीमेट अकाउंट कैसे बंद करें?

डिमैट अकाउंट बंद करने के लिए आपको पहले क्लोजर फॉर्म डाउनलोड करना पड़ेगा उसके बाद आपको डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट के सामने उस फॉर्म पर साइन करना होगा और कारण बताइए अधिक जानकारी के लिए हमारी पोस्ट पढ़िए।

Q2.डिमैट अकाउंट के फायदे?

1.कम समय में शेयर खरीदे या बेचे जा सकते हैं।
2.अकाउंट में अनेक प्रकार के म्यूचल फंड इक्विटी स्टॉप बांड रखने की अनुमति देती है।
3.आधुनिक सुविधा प्रदान करता है।

Q3.share market mein demat account online kaise khole?

डीमेट अकाउंट खोलने के लिए मार्केट में अनेक प्रकार के ऐप्स है जिसमें सबसे सिक्योर ग्रो एप है। जहां डिमैट अकाउंट खोलना बहुत ही आसान है।

Q4.कितने डिमैट अकाउंट खोल सकते हैं?

अगर आप एक से ज्यादा डिमैट अकाउंट खोलोगे तो आप पर कार्रवाई हो सकती। सेबी के नए नियमों के अनुसार एक पैन कार्ड पर एक ही डिमैट अकाउंट खोल सकते हैं।

Q5.शेयर मार्केट में अकाउंट कैसे खोलें?

शेयर मार्केट में अकाउंट खोलने के लिए आपको पहले डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट से डिमैट अकाउंट ओपनिंग फॉर्म लेना पड़ता है और उसको भरकर उस पर साइन करना होता है।

Q6.सबसे अच्छा डिमैट अकाउंट कौन सा है?

दोस्तों यहां पर मैं आपको लिस्ट दे रहा हूं जो कि वर्तमान में अच्छी सेवाएं दे रहा है।

●Groww App
●Zerodha
●Upstox
●5Paisa
●Share Khan 
●Angel broking
●Quality shareo

Q7.नंबर वन ट्रेडिंग एप कौन सा है?

दोस्तों जहां तक मुझे लगता है कि Groww App आपको ज्यादा सुविधाएं देता है और अपने कस्टमर का ध्यान रखते हुए नई-नई फैसिलिटी को भी समय-समय पर लांच करता रहता है इसके साथ ही इनके ऐप का Interface बहुत ज्यादा आसान है जहां से आप बहुत जल्दी Order Place कर सकते है।

Q8.लाइफ टाइम फ्री डिमैट अकाउंट कौन से हैं?

जहां तक बात करें सारे ब्रोकर ऐप आपसे वार्षिक टैक्स AMC लेती है परंतु मैं कुछ ब्रोकर्स ऐप को जानता हूं जो आप को लाइफटाइम फ्री डिमैट अकाउंट प्रदान करते हैं जिसमें कोई भी annual maintenance charge नहीं लगता।
●Itradeonline
●Rmoney
●Finvasia
●Trustline
●Prostocks
●Dematfree

Q9.डीमैट अकाउंट पर कितना टैक्स लगता है?

यह ब्रोकर के ऊपर निर्भर करता है कि वह आप पर कितना AMC चार्ज लगाता है। यह 200 से लेकर 800 रुपए तक हो सकता है।

Tags-डिमैट अकाउंट क्या है , डिमैट अकाउंट कैसे खोलें फायदे और नुकसान , भारतीय स्टेट बैंक डीमैट खाता शुल्क संबंधित जानकारी,डिमैट अकाउंट कैसे खोलें ?

आज हमने क्या सिखा

आज हमने सीखा कि डिमैट अकाउंट क्या है , डिमैट अकाउंट कैसे खोलें फायदे और नुकसान , भारतीय स्टेट बैंक डीमैट खाता शुल्क संबंधित जानकारी देखी। मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा लेख डिमैट अकाउंट कैसे खोलें आसान तरीका 2021 पसंद आया होगा। 

अधिक जानकारी के लिए इस विडियो को जरुर देखे -


Video Source - YOUTUBE 

टेक्निकल समाज हमेशा प्रयास करता है कि पाठकों को सारी जानकारी इसी जगह मिले, उनको किसी अन्य वेबसाइट या इंटरनेट पर उस विषय संबंधित खोज ना करनी पड़े। इससे उनका समय भी बचेगा और उनको सारी जानकारी एक ही जगह मिल जाएगी।

हमारे द्वारा दी गयी जानकारी -